हरियाली अमावस्या पर नागणेची मंदिर परिसर में मंत्र जाप के साथ 108 पीपल के पौधों का रोपण

हरियाली अमावस्या पर नागणेची मंदिर परिसर में मंत्र जाप के साथ 108 पीपल के पौधों का रोपण

बीकानेर। भारत विकास परिषद की मीरां शाखा, मंदिर श्री नागणेचीजी सेवा समिति के संयुक्त तत्वावधान में 530 वर्ष पुराने नागणेचीजी मंदिर परिसर में ’’ऊं नमोः भगवते वासुदेवाय’’ ’’नमो नारायण’’ के मंत्रों के जाप के साथ 108 पीपल के पौधों का रोपण किया गया। समाज सेवी व पर्यावरणविद् नरेश चुग के नेतृत्व में पर्यावरण शुद्धि के लिए अधिकाधिक पेड़ लगाने मंदिर परिसर को हरा भरा बनाने का संकल्प लिया गया।
भारत विकास परिषद मीरां शाखा की प्रांतीय उपाध्यक्ष श्रीमती शशि चुग, प्रांतीय महिला प्रभारी डाॅ.दिप्ती वाहल, मंदिर श्री नागणेचीजी सेवा समिति के अध्यक्ष उम्मेद सिंह राठौड़ व उपाध्यक्ष भवानी सिंह, राजस्थान पथ परिवहन निगम के पूर्व मुख्य प्रबंधक महेश चुग, विकास अग्रवाल बीकानेर पंचायत समिति की पूर्व प्रधान श्रीमती शिल्पा गेदर, एडवोकेट ओम प्रकाश भादाणी, मीरां शाखा की अध्यक्ष रितु मित्तल, सचिव छवि गुप्ता व अन्य पदाधिकारियों व सदस्यों तथा पर्यावरण प्रेमियों के साथ बालक आदित्य शर्मा ने अपने जन्म दिन पर पूजा अर्चना के बाद पीपल के पौधे को नमन करते हुए उसका रोपण किया।
पर्यावरणविद् नरेश चुग व मंदिर श्रीनागणेचीजी सेवा समिति के अध्यक्ष उम्मेद सिंह राठौड़ ने बताया कि नागणेचीजी मंदिर परिसर में 21 सितम्बर 2021 अब सैकड़ों पौधे से में लगाएं जा चुके है इनमें विल्वपत्र, शीषम, पीपल, नीम, पीपल, बड़, कल्पवृक्ष, नारियल, विभिन्न तरह के फल व फूल आदि के पौधे शामिल है। सभी पौधे नियमित देखभाल करने से बड़े हो रहे है। मंदिर के पास ही फव्वारा व हरियाली दूब भी लगाई गई है। पौधों की बूंद-बूंद फव्वारा पद्धति से नियमित सिंचाई की जा रही है। मंदिर के चारों ओर हरियाली कर ग्रीन टेम्पल के रूप में विकसित करने की मंशा से यह पौधरोपण कार्य किया जा रहा है। समाज सेवी नरेश चुग ने बताया कि वे वृृद्धजन भ्रमण पथ, सार्दुल गंज स्थित दो पार्कों सहित विभिन्न स्थानों पर हजारों पेड़ लगा चुके है। इस बार 25 हजार पेड़ों को निःशुल्क आमजन को देकर लगाने का संकल्प लिया हुआ है। इस अवसर पर पर्यावरण विद् नरेश चुग ने कहा कि पूजनीय व वंदनीय पीपल के पौधे से जहां हमें अत्यधिक मात्रा में ऑक्सीजन मिलती है, पुण्यों का अर्जन व पापों का विसर्जन होता है व सम्पन्नता, समृद्धि आती है।

इन्होंने लगाएं पौधे..

पौधे लगाने वालों में भारत विकास परिषद मीरां शाखा की डाॅ.तपस्या चतुर्वेदी, डाॅ.मंजू कच्छावा, विनीता भाटिया, रश्मि भंसाली, ललिता कालरा, कुसुम क्वात्रा, रतन गुप्ता, ममता, जागृति बोथरा, सीमा शर्मा, चन्द्र प्रभा सिंह, हेमा सिंह, गायत्री, मुक्ता गोस्वामी, डाॅ.वीके.मिश्रा, राहुल जायसवाल, विशाल घेई, मनोज चांडक, गोपाल मोहता, जुगल बिहानी, हेमंत चांडक, देवांश मोहता, भंवर खान, अजीज बागवान व रमेश आदि ने पौधा रोपण किया।

What's Your Reaction?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow