कृष्णगिरी में गुंजायमान हो रहा.. जयकारा गुरुदेव का ; जय जय गुरुदेव

कृष्णगिरी में गुंजायमान हो रहा.. जयकारा गुरुदेव का ; जय जय गुरुदेव

विश्व इतिहास में पहली बार गुरु पूर्णिमा पर महामांगलिक अनुष्ठान मंत्रशक्तिपात बुधवार को 

पूज्य गुरुदेव श्रीजी डॉ वसंतविजयजी महाराज साहब की निश्रा में पंच क्रिया युक्त दिव्य स्नान, महायज्ञ भी होगा 

बेंगलूरु एवं चेन्नई से आज बड़ी संख्या में बसों, अन्य वाहनों से पहुंचेंगे श्रद्धालु

कृष्णगिरी। विश्व शांतिदूत परम् पूज्य गुरुदेव श्रीजी डॉ वसंतविजयजी महाराज के श्रीचरणों में वंदन करते हुए "जयकारा गुरुदेव का, जय जय गुरुदेव.." इन गगनचुम्बी जयकारों के स्वरों के साथ कृष्णगिरी का पावन श्रीपार्श्व पद्मावती शक्तिपीठ तीर्थ धाम मंगलवार को दिनभर गुंजायमान रहा। गुरु पूर्णिमा के अवसर पर 13 जुलाई को विश्व इतिहास में पहली बार शक्तिपीठाधीपति, राष्ट्रसंत, मन्त्र शिरोमणि परम पूज्य गुरुदेव श्रीजी डॉ वसंत विजय जी महाराज साहब की पावन निश्रा में अतिदिव्य कार्यक्रम होगा। देश और दुनिया से आ रहे हजारों श्रद्धालु गुरुभक्तों के कल्याण हेतु अद्भुत महामांगलिक अनुष्ठान में पंचक्रियायुक्त अनेक आयोजन बुधवार को होंगे। महायज्ञ में आहुतियों सहित चमत्कारी मंत्र शक्तिपात का कार्यक्रम भव्यता के साथ हो रहा है। इसी क्रम में तीर्थ धाम को दुल्हन की तरह सजाया गया है। गुरु पूर्णिमा पर्व विशेष को लेकर सभी तैयारियां पूर्ण हो चुकी है। तीर्थ धाम के डॉ संकेश छाजेड़ ने बताया कि मंगलवार शाम स्वयं पूज्य गुरुदेवश्रीजी डॉ वसंतविजयजी म.सा.ने तीर्थ परिसर में विभिन्न व्यवस्थाओं का जायजा लिया एवं उपस्थित गुरु भक्तों को आशीर्वाद प्रदान करते हुए प्रसाद वितरित किया। उन्होंने बताया कि बुधवार दोपहर 12 बजे आगन्तुक सभी गुरु भक्तों के 108 दुर्लभ औषधियों-जड़ी बूटियों से मिश्रित पवित्र जल स्नान से गुरु पूर्णिमा के कार्यक्रम का आगाज होगा। इसके बाद वैश्विक स्तर पर श्रद्धालुओं के पाप, दोष, कष्ट व दुख निवारण तथा सर्व समृद्धि प्रदायक महायज्ञ में सामूहिक संकल्प के साथ आहुतियां दी जाएगी। उन्होंने बताया कि भारत ही नहीं विश्व के अनेक देशों से श्रद्धालु तीर्थ धाम पहुंच रहे हैं। डॉ संकेश ने बताया कि बेंगलूरु, चेन्नई कोयंबटूर, हुब्बली, वेल्लोर सहित अनेक स्थानों से गुरु भक्त बुधवार को बसों एवं अन्य वाहनों से कृष्णगिरी धाम पहुंचेंगे।

What's Your Reaction?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow